कानून प्रवर्तन एजेंसियों के लिए जानकारी

WhatsApp के बारे में जानकारी
WhatsApp दुनिया भर में लोगों को मैसेजिंग, इंटरनेट कॉलिंग और अन्य सर्विसेज़ उपलब्ध कराता है. आप हमारे मदद केंद्र पर जाकर WhatsApp के बारे में ज़्यादा जान सकते हैं.
दुनिया भर में लोगों की सुरक्षा बनाए रखने के लिए, WhatsApp कानूनी एजेंसियों के काम की सराहना करता है. हम लागू किए गए कानून और पॉलिसी के आधार पर कानूनी एजेंसियों के अनुरोधों की सही तरीके से जाँच करने, पुष्टि करने और उनका जवाब देने के लिए तैयार हैं.
नीचे दी गईं ऑपरेशनल गाइडलाइंस, कानूनी एजेंसियों के उन अधिकारियों के लिए हैं जिन्हें WhatsApp से किसी तरह के रिकॉर्ड या जानकारी चाहिए. जो यूज़र्स अपने अकाउंट की जानकारी पाना चाहते हैं, वे WhatsApp का अकाउंट की जानकारी का अनुरोध करें फ़ीचर इस्तेमाल कर सकते हैं. यह जानकारी किसी भी समय बदली जा सकती है.
कानून प्रवर्तन एजेंसियों के अनुरोधों का जवाब देना
इस गाइडलाइन के अलावा, कानून प्रवर्तन एजेंसियों के अधिकारी WhatsApp से आपातकालीन परिस्थितियों में या किसी भी तरह के सवाल पूछने के लिए संपर्क कर सकते हैं. अगर आप समय पर जवाब पाना चाहते हैं, तो कृपया कानून प्रवर्तन से जुड़े सवाल WhatsApp सपोर्ट टीम या किसी ऐसे चैनल को न भेजें जो कानून प्रवर्तन के लिए नहीं बनाए गए हैं.
अमेरिकी कानूनी प्रक्रिया से जुड़ी शर्तें
हम अपनी सेवा की शर्तों और लागू किए गए कानून के अनुसार ही अकाउंट की जानकारी देते हैं, जिसमें फ़ेडरल स्टोर्ड कम्युनिकेशन्स एक्ट ("SCA"), 18 U.S.C के तहत जानकारी देना शामिल है. सेक्शन 2701-2712. अमेरिकी कानून के तहत:
  • आपराधिक जाँच के मामले में सब्सक्राइबर से जुड़ी बुनियादी जानकारी देने के लिए, आधिकारिक तौर पर (18 U.S.C सेक्शन 2703(c)(2) के तहत) जारी किया गया वैध समन ज़रूरी होता है. इस जानकारी में ये चीज़ें शामिल हो सकती हैं (अगर उपलब्ध हों): नाम, सर्विस शुरू होने की तारीख, WhatsApp पर पिछली बार देखे जाने की तारीख, IP एड्रेस और ईमेल एड्रेस.
  • धारा 18 U.S.C. के सेक्शन 2703(d) के तहत जारी किया गया कोर्ट का आदेश, अकाउंट से जुड़े किसी खास रिकॉर्ड या अन्य जानकारी देने के लिए ज़रूरी है. इसमें चैट का कंटेंट शामिल नहीं हैं, लेकिन इसमें यूज़र द्वारा ब्लॉक या ब्लॉक किए गए फ़ोन नंबर्स और ऊपर बताई गई सब्सक्राइबर से जुड़ी बुनियादी जानकारी शामिल हो सकती है.
  • किसी अकाउंट के सेव किए गए कंटेंट, जैसे कि "मेरे बारे में", प्रोफ़ाइल फ़ोटो, ग्रुप की जानकारी और एड्रेस बुक की जानकारी देने के लिए, फ़ेडरल रूल्स ऑफ़ क्रिमिनल प्रोसीज़र (Federal Rules of Criminal Procedure) में बताए गए नियमों या किसी स्टेट वारंट के नियमों के तहत जारी किए गए सर्च वारंट में जानकारी पाने की संभावित वजह बताना ज़रूरी है. सामान्य तौर पर, मैसेज डिलीवर किए जाने के बाद WhatsApp उन मैसेजेस को या उनके ट्रांज़ेक्शन लॉग्स को स्टोर नहीं करता. साथ ही, जो मैसेज डिलीवर नहीं हो पाते, उन्हें WhatsApp के सर्वर से 30 दिन बाद मिटा दिया जाता है. WhatsApp अपनी सर्विसेज़ के लिए 'एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन' फ़ीचर की सुविधा देता है. यह फ़ीचर हमेशा एक्टिवेट रहता है.
  • हम सिर्फ़ दो कैटेगरी की जानकारी देने के लिए, राष्ट्रीय सुरक्षा पत्र के प्रावधानों को WhatsApp के लिए सही मानते हैं. ये दो कैटेगरी हैं - नाम और सेवा की अवधि.
अंतरराष्ट्रीय कानूनी प्रक्रिया से जुड़ी शर्तें
हम अपनी सेवा की शर्तों और लागू किए गए कानून के अनुसार ही अकाउंट से जुड़ी जानकारी देते हैं. इसके अलावा, हम जानकारी देने से पहले यह चेक करते हैं कि ये अनुरोध, मानवाधिकार, कानूनी प्रक्रियाओं और नियमों के साथ-साथ अंतरराष्ट्रीय मानकों को ध्यान में रखकर किए गए हैं या नहीं. किसी अकाउंट से जुड़े कंटेंट की जानकारी पाने के लिए आपसी कानूनी सहायता संधि (Mutual Legal Assistance Treaty) के अनुरोध या अनुरोध पत्र की ज़रूरत पड़ सकती है.
अकाउंट सुरक्षित बनाना
हम आपराधिक जाँच के मामलों से जुड़े अकाउंट के रिकॉर्ड, 90 दिन तक तब ही सुरक्षित रखेंगे जब हमें औपचारिक कानूनी प्रक्रिया से जुड़ी जानकारी मिल जाएगी. आप नीचे बताए गए कानून प्रवर्तन के ऑनलाइन अनुरोध सिस्टम के ज़रिए तुरंत औपचारिक सुरक्षा अनुरोध सबमिट कर सकते हैं.
आपातकालीन अनुरोध
किसी बच्चे को होने वाले संभावित नुकसान या मौत का खतरा या किसी व्यक्ति को लगी गंभीर शारीरिक चोट जैसे मामलों के जवाब में तुरंत जानकारी की ज़रूरत पड़ने पर कानून प्रवर्तन अधिकारी, कानून प्रवर्तन ऑनलाइन अनुरोध सिस्टम के ज़रिए अनुरोध कर सकते हैं. ऐसे अनुरोधों को तुरंत प्रोसेस करने के लिए, हम आपकी ओर से भेजे जाने वाले मैसेज की सब्जेक्ट लाइन में “आपातकालीन” लिखने का सुझाव देते हैं. यूज़र्स के डेटा से जुड़े सरकारी अनुरोधों के बारे में ज़्यादा जानने के लिए यह लेख पढ़ें.
ध्यान दें: हम कानून प्रवर्तन अधिकारियों के अलावा किसी और व्यक्ति द्वारा भेजे गए अनुरोधों की जाँच नहीं करेंगे और न ही जवाब देंगे. सरकार द्वारा जारी ऑफ़िशियल ईमेल एड्रेस से ही आपातकालीन अनुरोध सबमिट करें. अगर यूज़र्स को किसी भी तरह की आपातकालीन स्थिति के बारे में पता चलता है, तो उन्हें तुरंत अपने स्थानीय कानून प्रवर्तन ऑफ़िस से संपर्क करना चाहिए.
बच्चों की सुरक्षा से जुड़े मामले
अगर हमारे प्लेटफ़ॉर्म पर दुनिया में कहीं भी बच्चों के शोषण से जुड़े मामले दिखते हैं, तो हम इसकी रिपोर्ट नेशनल सेंटर फ़ॉर मिसिंग एंड एक्सप्लॉइटेड चिल्ड्रन (NCMEC) को करते हैं. इनमें सरकारी अनुरोधों के ज़रिए हमें उपलब्ध कराया गया कंटेंट भी शामिल होता है. नेशनल सेंटर फ़ॉर मिसिंग एंड एक्सप्लॉइटेड चिल्ड्रन (NCMEC), इंटरनेशनल सेंटर फ़ॉर मिसिंग एंड एक्सप्लॉइटेड चिल्ड्रन (ICMEC) और दुनिया भर की कानून प्रवर्तन एजेंसियों के साथ मिलकर काम करता है. अगर कोई अनुरोध बच्चों के शोषण या सुरक्षा के मामले से जुड़ा है, तो कृपया अपने अनुरोध में बच्चों के साथ होने वाले बुरे बर्ताव के बारे में बताएँ और उसमें NCMEC रिपोर्ट आइडेंटिफ़ायर्स शामिल करें, ताकि हम ऐसे मामलों को तेज़ी और प्रभावी तरीके से हल कर सकें.
डेटा रिटेंशन और उसे उपलब्ध कराना
हम सिर्फ़ ऐसा डेटा सर्च करेंगे और उसके बारे में जानकारी देंगे, जिसे पाने के लिए उचित कानूनी प्रक्रिया का पालन किया गया हो और जिसे हम ढूँढ व स्टोर कर सकते हों. हम डेटा को तब तक कानून प्रवर्तन एजेंसियों के लिए सेव नहीं करते, जब तक कि यूज़र द्वारा हमारे प्लेटफ़ॉर्म से उस डेटा को मिटाए जाने से पहले, हमें उसे सेव करने के लिए मान्य अनुरोध नहीं मिल जाता.
सामान्य तौर पर, मैसेज डिलीवर किए जाने के बाद WhatsApp उन मैसेजेस को या उनके ट्रांज़ेक्शन लॉग्स को स्टोर नहीं करता. जो मैसेज डिलीवर नहीं हो पाते, उन्हें हमारे सर्वर से 30 दिन बाद मिटा दिया जाता है. जैसा कि हमने WhatsApp की प्राइवेसी पॉलिसी में बताया है, हम यूज़र्स की जानकारी को तब ही इकट्‍ठा, इस्तेमाल, शेयर और उसे सुरक्षित रख सकते हैं, जब हमें यह भरोसा हो कि ऐसा (a) हमारे यूज़र्स को सुरक्षित रखने (b) गैर-कानूनी एक्टिविटी का पता लगाने, उसकी जाँच करने और उससे बचाव करने, (c) कानूनी प्रक्रिया या सरकारी अनुरोधों का जवाब देने, (d) हमारी शर्तों और नियमों को लागू करने के लिए ज़रूरी है. इसमें यह जानकारी भी शामिल हो सकती है कि कुछ यूज़र्स हमारे प्लेटफ़ॉर्म पर दूसरों के साथ कैसे बातचीत करते हैं. हम अपनी सर्विसेज़ के लिए 'एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन' की सुविधा देते हैं. यह फ़ीचर हमेशा एक्टिवेट रहता है. एंड-टू-एंड एन्क्रिप्शन का मतलब है कि आपके मैसेजेस एन्क्रिप्टेड होते हैं, उन्हें WhatsApp और थर्ड पार्टीज़ भी नहीं पढ़ सकते. WhatsApp पर सुरक्षा से जुड़ी अन्य जानकारी पाने के लिए यह लेख पढ़ें.
अनुरोधों के प्रकार
हम बहुत ज़्यादा जानकारी या समझ में न आने वाले अनुरोधों को प्रोसेस नहीं कर पाएँगे. सभी अनुरोधों में, जिन रिकॉर्ड्स की माँग की गई है उनके बारे में स्पष्ट रूप से जानकारी दी जानी चाहिए. साथ ही, इनमें ये जानकारी भी शामिल होनी चाहिए:
  • अनुरोध जारी करने वाले अधिकारी का नाम और एजेंट का बैज/ID नंबर, कानून-प्रवर्तन एजेंसी के डोमेन वाला ईमेल एड्रेस और सीधे संपर्क करने के लिए फ़ोन नंबर
  • राष्ट्र कोड के साथ WhatsApp अकाउंट नंबर
  • राष्ट्र कोड के बारे में ज़्यादा जानने के लिए यह लेख पढ़ें.
यूज़र की सहमति
अगर कोई कानून प्रवर्तन अधिकारी किसी ऐसे WhatsApp यूज़र के बारे में जानना चाहता है, जिसने उस अधिकारी को अपने अकाउंट की जानकारी ऐक्सेस या सेव करने की सहमति दी है, तो यूज़र को अपने अकाउंट से खुद जानकारी लेने के बारे में निर्देशित किया जाना चाहिए. यूज़र्स अकाउंट की जानकारी का अनुरोध करें फ़ीचर इस्तेमाल कर सकते हैं.
नोटिफ़िकेशन
WhatsApp, उन लोगों को नोटिफ़िकेशन भेजने का अधिकार सुरक्षित रखता है जो जानकारी पाने के लिए हमारी अनुरोधों से जुड़ी सर्विसेज़ इस्तेमाल करते हैं. जब तक हमें इसके लिए या फिर बाल शोषण के मामलों, आपातकालीन परिस्थितियों या किसी सूचना के गलत असर पड़ने जैसी स्थितियों में कानून द्वारा प्रतिबंधित न किया गया हो, तब तक हम यह अधिकार सुरक्षित रख सकते हैं.
सबूत या गवाही
WhatsApp किसी एक्सपर्ट की तरफ़ से दिए जाने वाले सबूत या गवाही जैसी मदद नहीं देता है. इसके अलावा, WhatsApp के रिकॉर्ड्स ही कानून के लिए काफ़ी हैं. इसके लिए किसी रिकॉर्ड कस्टोडियन (रिकॉर्ड रखने वाले अधिकारी) की गवाही की ज़रूरत नहीं होनी चाहिए. अगर आपको किसी खास तरह के सर्टिफ़िकेशन की ज़रूरत है, तो कृपया उसे रिकॉर्ड पाने के अनुरोध के साथ अटैच करें.
खर्च की भरपाई
कानूनी तौर पर, हम अनुरोधों का जवाब देने में आए खर्चे की भरपाई की माँग कर सकते हैं. ये शुल्क, अलग-अलग अकाउंट के हिसाब से लागू होते हैं. हम असामान्य या ऐसे अनुरोधों का जवाब देने में खर्चे की भरपाई के लिए अतिरिक्त शुल्क ले सकते हैं, जिन पर कार्रवाई करने में समस्या आती है. हो सकता है कि हम बच्चों, WhatsApp और हमारे यूज़र्स को होने वाले किसी बड़े नुकसान और आपातकालीन अनुरोधों के मामलों में ये शुल्क न लें.
अनुरोध सबमिट करना
ऑनलाइन
कानून प्रवर्तन अधिकारी, अनुरोधों के सबमिशन, ट्रैकिंग और प्रोसेसिंग के लिए कानून प्रवर्तन ऑनलाइन अनुरोध सिस्टम का इस्तेमाल कर सकते हैं. 'कानून प्रवर्तन ऑनलाइन अनुरोध सिस्टम' का ऐक्सेस पाने के लिए सरकार द्वारा जारी ईमेल एड्रेस ज़रूरी है.
WhatsApp से अकाउंट का रिकॉर्ड चाहने वाले कानून प्रवर्तन अधिकारियों को अपने अनुरोध WhatsApp LLC को भेजने चाहिए.
पता
इनके लिए: WhatsApp LLC, Law Enforcement Response Team
WhatsApp LLC
1601 Willow Road
Menlo Park, California 94025
United States of America
जो कानून प्रवर्तन अधिकारी, कानून प्रवर्तन ऑनलाइन अनुरोध सिस्टम के ज़रिए अपने अनुरोध सबमिट नहीं करते हैं, उन्हें जवाब मिलने में ज़्यादा समय लग सकता है. इलेक्ट्रॉनिक रूप से और हार्ड कॉपी, दोनों तरीकों से अनुरोध भेजने पर प्रोसेसिंग में ज़्यादा समय लग सकता है.
ध्यान दें:
  • आसानी से सर्विस उपलब्ध कराने के लिए, इनमें से किसी भी तरीके से कानूनी प्रक्रिया को स्वीकार किया जाता है. इसका मतलब यह नहीं है कि अधिकारों के हनन या सही तरीके से सर्विस उपलब्ध न कराने पर जताई गई आपत्तियों में छूट मिल जाएगी.
  • अगर ऊपर बताए गए पतों पर कानून प्रवर्तन अधिकारियों के अलावा किसी और व्यक्ति ने अनुरोध भेजा है, तो हम ऐसे अनुरोध का जवाब नहीं देंगे.
गाइडलाइन से जुड़े अपडेट्स
WhatsApp समय-समय पर यह जानकारी अपडेट कर सकता है. अनुरोध करने से पहले कृपया गाइडलाइन देख लें.
क्या यह जानकारी उपयोगी थी?
हाँ
नहीं