बिज़नेस अकाउंट के साथ चैट करने के बारे में जानकारी

WhatsApp पर पर्सनल अकाउंट और बिज़नेस अकाउंट को पहचानना आसान है. किसी चैट में, कॉन्टैक्ट की प्रोफ़ाइल देखने के लिए उसके नाम पर टैप करें. अगर वह बिज़नेस अकाउंट है, तो उनकी प्रोफ़ाइल पर इनमें से एक लेबल लगा होगा:
  • ऑफ़िशियल बिज़नेस अकाउंट: WhatsApp ने पता लगाया है कि यह अकाउंट एक मशहूर और वेरिफ़ाई किए गए ब्रांड का है. “ऑफ़िशियल बिज़नेस अकाउंट" की प्रोफ़ाइल में और चैट के हेडर के पास हरे रंग का चेकमार्क बैज लगा होता है. बिज़नेस अकाउंट का नाम आपकी एड्रेस बुक में सेव न होने पर भी आपको दिखता है.
  • बिज़नेस अकाउंट: अगर कोई बिज़नेस WhatsApp Business के किसी प्रोडक्ट पर अकाउंट बनाता है, तो यह उसका डिफ़ॉल्ट स्टेटस होता है.
ध्यान दें: “ऑफ़िशियल बिज़नेस अकाउंट” लिखे होने का मतलब यह नहीं है कि WhatsApp इस बिज़नेस को सपोर्ट करता है.
मुझे अपनी WhatsApp चैट्स में नया सिस्टम मैसेज क्यों दिख रहा है?
आप जिन बिज़नेसेज़ के साथ WhatsApp पर चैट करते हैं, हो सकता है कि उनमें से कुछ बिज़नेसेज़ अपने मैसेजेस मैनेज और सेव करने के लिए Facebook या किसी दूसरी कंपनी की मदद ले रहे हों.
अगर कोई बिज़नेस अपने मैसेजेस मैनेज करने के लिए किसी दूसरी कंपनी की मदद लेता है, तो आपको इनमें से कोई एक सिस्टम मैसेज दिखता है:
  • जब बिज़नेसेज़ पार्टनर का इस्तेमाल करते हैं: तब आपको यह मैसेज दिखेगा “यह बिज़नेस, इस चैट को मैनेज करने के लिए अन्य कंपनियों के साथ मिलकर काम करता है.”
  • जब बिज़नेसेज़ Facebook की होस्टिंग सर्विस का इस्तेमाल करते हैं: तब आपको यह मैसेज दिखाई देगा “यह बिज़नेस, इस चैट को मैनेज करने के लिए Facebook की सुरक्षित सर्विस का इस्तेमाल करता है.”
अगर बिज़नेस खुद अपनी चैट को मैनेज करते हैं, तो आपको यह सिस्टम मैसेज दिखता है: "मैसेजेस और कॉल्स एंड-टू-एंड एन्क्रिप्टेड हैं. इस चैट में शामिल लोगों के अलावा कोई भी इन्हें पढ़ या सुन नहीं सकता, WhatsApp भी नहीं."
अगर कोई बिज़नेस अपने मैसेजेस मैनेज करने के लिए Facebook को चुनता है, तो आपको दिखने वाले विज्ञापनों के लिए Facebook आपके मैसेज के कंटेंट का ऑटोमैटिकली इस्तेमाल नहीं करता. दूसरे कम्युनिकेशन चैनल की तरह (जैसे कि कॉल सेंटर और ईमेल) बिज़नेसेज़ अपनी मार्केटिंग के लिए अपने कस्टमर्स के साथ होने वाली बातचीत का इस्तेमाल कर सकते हैं. इसमें Facebook या अन्य प्लेटफ़ॉर्म्स पर दिखने वाले विज्ञापन भी शामिल हो सकते हैं. किसी बिज़नेस की प्राइवेसी पॉलिसी के बारे में ज़्यादा जानने के लिए आप उनसे कभी भी संपर्क कर सकते हैं.
अगर आप किसी बिज़नेस से मैसेज नहीं पाना चाहते, तो आप उन्हें सीधे चैट में जाकर ब्लॉक कर सकते हैं या अपनी कॉन्टैक्ट लिस्ट से उन्हें मिटा सकते हैं.
हमेशा प्राइवेट और सुरक्षित
हर WhatsApp मैसेज उसी सिग्नल एन्क्रिप्शन प्रोटोकॉल से सुरक्षित होता है, जिसका इस्तेमाल आपके डिवाइस से मैसेज भेजे जाने से पहले, उसे सुरक्षित करने के लिए किया जाता है. बिज़नेस अकाउंट को भेजे जाने वाले मैसेज, बिज़नेस की चुनी गई जगह पर ही सुरक्षित रूप से डिलीवर होते हैं.
संबंधित रीसोर्स
क्या यह जानकारी उपयोगी थी?
हाँ
नहीं