‘गायब होने वाले मैसेज’ मोड के बारे में जानकारी

‘गायब होने वाले मैसेज’ मोड एक वैकल्पिक फ़ीचर है जिसे आप ज़्यादा प्राइवेसी पाने के लिए ऑन कर सकते हैं.
‘गायब होने वाले मैसेज’ मोड ऑन करने पर आप यह चुन सकते हैं कि भेजे जाने के बाद मैसेजेस 24 घंटे, 7 दिन या 90 दिन बाद गायब हो जाएँ. आप जो ऑप्शन चुनेंगे उसका असर चैट के सिर्फ़ नए मैसेजेस पर पड़ेगा. आप अपनी सभी चैट्स या कुछ खास चैट्स में ‘गायब होने वाले मैसेज’ मोड को ऑन कर सकते हैं. इस मोड को ऑन करने से पहले भेजे गए या मिले मैसेज गायब नहीं होंगे. चैट कर रहे दोनों यूज़र्स में से कोई भी यह मोड ऑन या ऑफ़ कर सकता है. ग्रुप चैट में शामिल कोई भी सदस्य 'गायब होने वाले मैसेज' मोड को ऑन या ऑफ़ कर सकता है. अगर ग्रुप एडमिन चाहें, तो ग्रुप की सेटिंग्स को इस तरह बदल सकते हैं कि सिर्फ़ एडमिन ही 'गायब होने वाले मैसेज' मोड को ऑन या ऑफ़ कर सकें.
  • अगर कोई यूज़र 24 घंटे, 7 दिन या 90 दिन तक WhatsApp नहीं खोलता है, तो मैसेज चैट से गायब हो जाएँगे. ऐसा भी हो सकता है कि WhatsApp खोले जाने तक नोटिफ़िकेशन में उस मैसेज का प्रीव्यू दिखे.
  • किसी मैसेज का जवाब देने पर, उस मैसेज को कोट किया जाता है. अगर आप गायब होने वाले मैसेज का जवाब देते हैं, तो वह मैसेज चुने गए समय के बाद भी चैट में कोट किए गए मैसेज के तौर पर दिख सकता है.
  • अगर आप गायब होने वाले मैसेज को उस चैट पर फ़ॉरवर्ड करते हैं जिसके लिए ‘गायब होने वाले मैसेज’ मोड को ऑफ़ किया गया है, तो वह मैसेज उस चैट से गायब नहीं होगा.
  • अगर मैसेज गायब होने से पहले यूज़र बैकअप ले लेता है, तो गायब होने वाला मैसेज, बैकअप में सेव कर लिया जाएगा. बैकअप से रीस्टोर करने पर गायब होने वाले मैसेज मिटा दिए जाएँगे.
ध्यान दें: 'गायब होने वाले मैसेज' मोड का इस्तेमाल सिर्फ़ उन लोगों के साथ करें, जिन पर आपको भरोसा है. उदाहरण के तौर पर, ऐसा हो सकता है कि किसी ने ऐसे मैसेज गायब होने से पहले ही:
  • किसी और को फ़ॉरवर्ड कर दिया हो या उनका स्क्रीनशॉट सेव कर लिया हो.
  • उन्हें कॉपी करके उनका कंटेंट सेव कर लिया हो.
  • किसी और डिवाइस या कैमरे से उनकी फ़ोटो ले ली हो.
आपके अकाउंट के लिए 'गायब होने वाले मैसेज' मोड को सेट किया हो
आप 'गायब होने वाले मैसेज' मोड को सभी चैट के लिए डिफ़ॉल्ट रूप से ऑन कर सकते हैं.
  • iPhone और Android पर:WhatsApp की सेटिंग्ज़/सेटिंग्स पर जाएँ > अकाउंट > प्राइवेसी > डिफ़ॉल्ट मैसेज टाइमर पर टैप करें और अपने हिसाब से समय चुनें.
गायब होने वाले मैसेजेस में मौजूद मीडिया
WhatsApp मीडिया आपके डिवाइस पर ऑटोमैटिकली डाउनलोड हो जाता है. अगर 'गायब होने वाले मैसेज' मोड ऑन है, तो चैट में भेजा गया मीडिया WhatsApp से गायब हो जाएगा, लेकिन 'ऑटोमेटिक डाउनलोड' फ़ीचर ऑन होने की वजह से आपके डिवाइस पर सेव हो जाएगा. आप WhatsApp की सेटिंग्स में जाकर स्टोरेज और डेटा सेक्शन में ऑटोमेटिक डाउनलोड को ऑफ़ कर सकते हैं.
संबंधित रीसोर्स:
क्या यह जानकारी उपयोगी थी?
हाँ
नहीं