WhatsApp पर सुरक्षित कैसे रहें

आपकी और आपके मैसेजेस की सुरक्षा हमारे लिए सबसे अहम है. हम आपको उन टूल्स और फ़ीचर्स के बारे में बताना चाहते हैं जिनसे आपको WhatsApp पर सुरक्षित रहने में मदद मिलती है.
हमारी सेवा की शर्तें
हम अपनी सेवा की शर्तों की मदद से आपको WhatsApp पर सुरक्षित रखते हैं. हमारी सेवा की शर्तों में कुछ प्रतिबंधित गतिविधियों के बारे में बताया गया है, जिसमें ऐसा कंटेंट (स्टेटस, प्रोफ़ाइल फ़ोटो या मैसेजेस में) शेयर करना भी शामिल है जो गैर-कानूनी, अश्लील, मानहानि से जुड़ा, धमकी देने, डराने, परेशान करने, नफ़रत फैलाने, नस्लीय या जातीय भेदभाव फैलाने, गैर-कानूनी या गलत व्यवहार करने के लिए उकसाने या फिर हमारी सेवा की शर्तों का उल्लंघन करने वाला हो. अगर हमें लगता है कि किसी यूज़र ने हमारी सेवा की शर्तों का उल्लंघन किया है, तो हम उस यूज़र का WhatsApp अकाउंट बैन कर देते हैं.
हमारी सेवा की शर्तों का उल्लंघन करने वाली गतिविधियों के बारे में ज़्यादा जानने या उनके उदाहरण देखने के लिए हमारी सेवा की शर्तों का यह सेक्शन देखें: हमारी सर्विसेज़ किन चीज़ों के लिए इस्तेमाल की जा सकती हैं. अकाउंट बैन किए जाने के बारे में ज़्यादा जानने के लिए यह लेख पढ़ें.
कंटेंट सोच-समझकर ही शेयर करें
हमारा सुझाव है कि आप अपने WhatsApp कॉन्टैक्ट्स के साथ कोई भी कंटेंट सोच-समझकर शेयर करें. इस बारे में विचार करें कि जो कंटेंट आप शेयर कर रहे हैं उसे आप अन्य लोगों को दिखाना चाहते हैं या नहीं.
जब आप WhatsApp पर किसी के साथ चैट, फ़ोटो, वीडियो, फ़ाइल या वॉइस मैसेजेस शेयर करते हैं, तो उनके पास भी इन मैसेजेस की एक कॉपी सेव हो जाती है. अगर आपके कॉन्टैक्ट चाहें, तो वे दूसरों के साथ आपके मैसेजेस शेयर कर सकते हैं. एक बार देखे जा सकने वाले मीडिया के बारे में ज़्यादा जानने के लिए यह लेख पढ़ें.
WhatsApp पर लोकेशन फ़ीचर भी उपलब्ध है, जिसका इस्तेमाल करके आप WhatsApp मैसेज के तौर पर अपनी लोकेशन शेयर कर सकते हैं. अपनी लोकेशन सिर्फ़ उन्हीं लोगों से शेयर करें जिन पर आप भरोसा करते हैं.
WhatsApp का सही तरीके से इस्तेमाल करने के बारे में जानने के लिए यह लेख पढ़ें.
सुरक्षा से जुड़े फ़ीचर्स
WhatsApp पर, हमने कुछ ऐसे बेसिक कंट्रोल बनाए हैं जिन्हें अपनी सुविधा के अनुसार सेट करके आप खुद को सुरक्षित रख सकते हैं.
प्राइवेसी सेटिंग्स
प्राइवेसी सेटिंग्स में जाकर यह सेट करें कि आपकी जानकारी कौन देख सकता है और कौन नहीं. अपना 'पिछली बार देखा गया', 'ऑनलाइन' स्टेटस, 'प्रोफ़ाइल फ़ोटो', 'मेरे बारे में' या 'स्टेटस' सेट करने के लिए इनमें से एक ऑप्शन चुनें:
  • कोई भी: सभी यूज़र्स आपका 'पिछली बार देखा गया', 'ऑनलाइन' स्टेटस, 'प्रोफ़ाइल फ़ोटो', 'मेरे बारे में' या 'स्टेटस' देख पाएँगे.
  • मेरे कॉन्टैक्ट्स: आपके फ़ोन में सेव कॉन्टैक्ट्स ही आपका 'पिछली बार देखा गया', 'ऑनलाइन' स्टेटस, 'प्रोफ़ाइल फ़ोटो', 'मेरे बारे में' या 'स्टेटस' देख पाएँगे.
  • मेरे कॉन्टैक्ट्स लेकिन इन्हें छोड़कर: आप अपने फ़ोन में सेव किए हुए कॉन्टैक्ट्स में से चुन सकते हैं कि किसे आपका 'पिछली बार देखा गया', 'ऑनलाइन' स्टेटस, 'प्रोफ़ाइल फ़ोटो', 'मेरे बारे में' या 'स्टेटस' न दिखे.
  • कोई नहीं: कोई भी आपका 'पिछली बार देखा गया', 'ऑनलाइन' स्टेटस, 'प्रोफ़ाइल फ़ोटो', 'मेरे बारे में' या 'स्टेटस' नहीं देख पाएगा.
Android और iPhone पर इन प्राइवेसी सेटिंग्स के बारे में ज़्यादा जानें
'पढ़े गए मैसेज' फ़ीचर
आप चाहें तो 'पढ़े गए मैसेज' फ़ीचर ऑफ़ भी कर सकते हैं. अगर आप 'पढ़े गए मैसेज' फ़ीचर ऑफ़ कर देंगे, तो आपको चैट्स में आने-जाने वाले मैसेजेस पढ़ लिए जाने पर भ‍ी दो ब्लू टिक नहीं दिखेंगे. ध्यान दें, अगर आप प्राइवेसी सेटिंग्स में 'पढ़े गए मैसेज’ फ़ीचर ऑफ़ कर देते हैं, तो भी ग्रुप चैट में मैसेज पढ़ लिए जाने पर ब्लू टिक हमेशा दिखेंगे. Android, iPhone या KaiOS पर 'पढ़े गए मैसेज' फ़ीचर के बारे में ज़्यादा जानें.
Android और iPhone पर इन प्राइवेसी सेटिंग्स के बारे में ज़्यादा जानें
कॉन्टैक्ट्स और मैसेजेस को ब्लॉक या रिपोर्ट ऐसे करें
हम चाहते हैं कि आप हमें ऐसे कंटेंट और कॉन्टैक्ट की रिपोर्ट करें जिनसे किसी तरह की समस्या हो सकती है. जिन कॉन्टैक्ट या मैसेजेस से आपको समस्या हो रही है उन्हें ब्लॉक करके या WhatsApp पर उनकी रिपोर्ट करके, आप यह कंट्रोल कर सकते हैं कि आप किस कॉन्टैक्ट से बात करना चाहते हैं और किस तरह का कंटेंट देखना चाहते हैं. एक बार देखे जा सकने वाले फ़ोटो या वीडियो मिलने पर आप सीधे मीडिया व्यूअर की मदद से उस अकाउंट की रिपोर्ट कर सकते हैं जिससे आपको मैसेज मिला है. यह लेख पढ़ कर जानें कि ब्लॉक करें और रिपोर्ट करें फ़ीचर्स इस्तेमाल करने पर क्या होता है और किसी कॉन्टैक्ट को ब्लॉक या उसकी रिपोर्ट कैसे करते हैं.
अतिरिक्त सुरक्षा संबंधी रीसोर्स
अगर आपको लगता है कि आप या कोई दूसरा यूज़र खतरे में है, तो स्थानीय आपातकालीन सेवाओं से संपर्क करें.
अगर आपको लगता है कि आपका कोई कॉन्टैक्ट खुद को नुकसान पहुँचाने की कोशिश कर रहा है और आप उनकी सुरक्षा को लेकर परेशान हैं, तो स्थानीय आपातकालीन सेवाओं या आत्महत्या रोकथाम हॉटलाइन से संपर्क करें.
अगर आपको बच्चों के शोषण या उनके साथ बुरे बर्ताव से जुड़ा कोई कंटेंट दिखता है, तो नेशनल सेंटर फ़ॉर मिसिंग ऐंड एक्सप्लॉइटेड चिल्ड्रन (NCMEC) से संपर्क करें. आप इस तरह का कंटेंट भेजने वाले यूज़र की रिपोर्ट भी कर सकते हैं. किसी कॉन्टैक्ट की रिपोर्ट करने के बारे में ज़्यादा जानने के लिए यह लेख पढ़ें. आप जिस कंटेंट की रिपोर्ट करना चाहते हैं उसका स्क्रीनशॉट अपनी रिपोर्ट में शामिल न करें.
संबंधित रीसोर्स
क्या इससे आपको अपने सवाल का जवाब मिला?
हाँ
नहीं